भारतीय आदर्श योग संस्थान के बढ़ते कदम

138
भारतीय आदर्श योग संस्थान के बढ़ते कदम
भारतीय आदर्श योग संस्थान के बढ़ते कदम
राजू यादव
राजू यादव

भारतीय आदर्श योग संस्थान ने आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर संगीत नाटय अकादमी गोमती नगर और भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान मुख्यालय जनेश्वर पार्क, डॉ राम मनोहर लोहिया पार्क, थॉमस स्कूल, कस्तूरबा पार्क में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर योगाभ्यास कराया। भारतीय आदर्श योग संस्थान के बढ़ते कदम

आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर भारतीय आदर्श योग संस्थान के योगाचार्य कृष्ण दत्त मिश्र ने अपनी शिष्या मधु पांडेय के साथ भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान मुख्यालय रायबरेली रोड में वहां पर कार्यरत अधिकारियों एवं कर्मचारियों को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के प्रोटोकॉल का अभ्यास कराया और योग के बारे में उन्हें अवगत कराया। वहां के सभी अधिकारी और कर्मचारी ने योग के प्रोटोकॉल का ध्यान से अभ्यास किया। वहां के सभी कर्मचारी योग के प्रति जिज्ञासु नज़र आ रहे थे। योगाचार्य कृष्ण दत्त मिश्रा ने योग की बारीकियां को बड़े विस्तार से समझाया और उनकी शिष्या मधु पांडेय ने योग कर दिखाया। एक ग्रहणी महिला का योग के प्रति रुचि और उसके अभ्यास को देखकर वहां के अधिकारी और कर्मचारी काफी प्रभावित नजर आए और उन्होंने माना कि अगर आपके अंदर लगन है तो किसी भी काम को किया जा सकता है। भारतीय आदर्श योग संस्थान के बढ़ते कदम

भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान मुख्यालय रायबरेली रोड पर कार्यरत अधिकारी एवं कर्मचारी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योगाभ्यास करते हुए

योगाचार्य कृष्ण दत्त मिश्र ने बताया कि योग एक ऐसी विधा है जिससे मनुष्य अपने आपको शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत बना सकता है। उन्होंने कहा कि स्वस्थ और दीर्घ जीवन के लोगों को योग को दिनचर्या में नियमित रूप से लाना होगा। तभी इसका लाभ मिलेगा। इसके उपरांत योगाचार्य ने समस्त आगंतुकों को सर्वांग आसन, हल आसन, भुजंग आसन , धनुर आसन समेत कई अन्य आसनों का अभ्यास कराया। योग दिवस में लाखों लोग ने हिस्सा लेते हैं। भारत के सभी क्षेत्रों राज्यों में योग दिवस के आयोजन हुए हैं। अस्तित्व महाऊर्जा से भरा पूरा है। योग अस्तित्व से शक्ति अर्जित करने का विज्ञान है।

भारतीय आदर्श योग संस्थान ने आज संगीत नाटय अकादमी गोमती नगर में भी सैकड़ो लोगों को योगाभ्यास कराया। योग के प्रति उन्हें जागरूक किया। भारतीय आदर्श योग संस्थान के योगाचार्य को देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि जैसे उन्होंने ठान लिया है कि जन-जन को योग के प्रति जागरूक करना है। स्वयं के साथ समाज राज्य और राष्ट्र को ही स्वस्थ बनाना है। उनका मानना है कि अगर प्रत्येक भारतीय स्वस्थ होगा तो राष्ट्र का विकास सुनिश्चित है। स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ विचार आते हैं और स्वस्थ विचार से ही स्वयं समाज राज्य और राष्ट्र का विकास होता है।

भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान मुख्यालय रायबरेली रोड पर कार्यरत अधिकारी एवं कर्मचारी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योगाभ्यास करते हुए

योग आध्यात्मिक अनुशासन एवं अत्यंत सूक्ष्म विज्ञान पर आधारित ज्ञान है जो मन और शरीर के बीच सामंजस्य स्थापित करता है। यह स्वस्थ जीवन की कला एवं विज्ञान है।योग मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। योग मानसिक तौर पर व्यक्ति को शांति प्रदान करता है, अच्छी नींद और तनाव व थकान दूर करता है। वहीं योग आंतरिक और बाहरी शरीर को स्वस्थ बनाता है। मांसपेशियों की मजबूती, बेहतर रक्त प्रवाह, वजन पर नियंत्रण होता है। योग शरीर को स्वस्थ रखने का एक लाभकारी तरीका है। योगासन के नियमित अभ्यास से न केवल शरीर, बल्कि मानसिक सेहत भी दुरुस्त रहती है। यानी योगासन शारीरिक और मानसिक दोनों तरह की सेहत के लिए लाभदायक माना जाता है।

भारतीय आदर्श योग संस्थान के बढ़ते कदम

मधु पांडेय ने बताया कि नियमित योग करने से हमारी लाइफस्टाइल बदल गई है।उन्होंने कहा मेरी फिटनेस का मूल मंत्र योग है। सूर्य नमस्कार को सरकार भी बढ़ावा दे रही है क्योंकि इससे हम शारीरिक रूप से स्वस्थ रह सकते हैं। भुजंगासन,चक्रासन, सर्प आसन एवं शवासन आदि घर पर भी किए जा सकते हैं। योग करने से शरीर निरोग रहता है और मन भी प्रसन्न रहता है। योग अपनाकर कई बीमारियों से स्थाई रूप से बचा जा सकता है। योग के माध्यम से मनुष्य प्रकृति से जुड़ता है। योग,ध्यान और प्राणायाम भारतीय संस्कृति के प्रतीक हैं। स्वस्थ रहने का यह सबसे सस्ता और सुलभ तरीका है, यही कारण है कि हम महिलायें भी अब योग का महत्व समझने लगी हैं। नियमित रूप से योगासन करना महिलाओं का रूटीन बनता जा रहा है। भा.क्र.अनु.प.-भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान, रायबरेली रोड लखनऊ पर निदेशक-डॉ. आर. विस्वनाथन,अभिषेक श्रीवास्तव वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी,सहायक प्रशासनिक अधिकारी-गणेश सिंह यंग प्रफ़ेशनल-ई अरुण शुक्ला,संजीव कुमार,दिनेश सिंह,एम.के. त्रिपाठी,वी.के.सिंह,संजय यादव एवं संस्थान के वैज्ञानिक,तकनीकी,प्रशासनिक कर्मचारी गण की उपस्थिति में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2024 बड़ी ही उत्साह के साथ मनाया गया। भारतीय आदर्श योग संस्थान के बढ़ते कदम