उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त-राजेन्द्र चौधरी

155

समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि लखीमपुर खीरी में कल भाजपाईयों द्वारा गाड़ी से कुचलकर की गयी किसानों की हत्या तानाशाही का उदाहरण है। आज समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखीमपुर में मृतक किसानों के परिजनों से मिलने जाने से रोकना और गिरफ्तारी करना भाजपा सरकार का अलोकतांत्रिक रवैया है।


समाजवादी पार्टी के प्रमुख महासचिव प्रो0 रामगोपाल यादव सहित कई जनप्रतिनिधियों एवं हजारों कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी असंवैधानिक है। भाजपा सरकार उत्तर प्रदेश में कानून का शासन स्थापित करने में पूरी तरह विफल हो गयी है। कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गयी है। भाजपा सरकार तानाशाही कर रही है। जनता की आवाज को दबाया जा रहा है। सरकारी मशीनरी विपक्ष का दमन कर रही है। पुलिस प्रशासन सरकारी एजेन्ट की भांति काम कर रही है।

उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है। यहां जनप्रतिनिधि सुरक्षित नहीं हैं तो आम जनता का क्या हाल होगा।भाजपा सरकार पर प्रहार करते हुए राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि यह सरकार पूरी तरह से विफल है। महंगाई चरम पर है। आम जनमानस पूरी तरह से त्रस्त है और सभी ऊब गए हैं। आगामी विधानसभा चुनाव में इस भाजपा सरकार से लोग हिसाब करेंगे। इसे हार का मुंह देखना पड़ेगा। 


पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव के गिरफ्तारी के विरोध में उत्तर प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर, लखीमपुर खीरी में प्रत्येक मृतक किसानों के परिजनों को दो करोड़ रूपये की मदद और परिवार को सरकारी नौकरी, गृह राज्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री का इस्तीफा, दोषियों को 302 के तहत तत्काल जेल भेजने की मांग को लेेकर समाजवादी पार्टी धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन सौपेगी।