GIS में UP की झलक पेश करेगा ड्रोन शो

227
ममता ने पार की तुष्टिकरण की पराकाष्ठा-योगी
ममता ने पार की तुष्टिकरण की पराकाष्ठा-योगी

GIS में UP की झलक पेश करेगा ड्रोन शो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 10 से 12 फरवरी के मध्य होने जा रही यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट को भव्य बनाने के लिए योगी सरकार कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है। मुख्यमंत्री योगी के निर्देश पर आयोजन स्थल यानी वृंदावन योजना की टेंट सिटी में मेहमानों के स्वागत और उनकी सुविधा के लिए हर तरह की व्यवस्था की जा रही है। मेहमानों के मनोरंजन के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जा रहा है, जबकि उन्हें आधुनिक होते यूपी की झलक दिखाने के लिए एक भव्य ड्रोन शो को भी शोकेस किया जाएगा। इस आयोजन में 600 ड्रोन्स की उपस्थिति में विशिष्ट लाइटिंग शो से पूरा वेन्यू जगमगा उठेगा। इस ड्रोन शो कम लाइटिंग शो का मेहमान दर्शक दीर्घा में बैठकर दीदार कर सकेंगे। यह ड्रोन शो एक तरह से इस पूरे आयोजन का सेंटर ऑफ अट्रैक्शन साबित हो सकता है।

  • 10 से 12 फरवरी के मध्य लखनऊ में होने वाली यूपीजीआईएस-23 को भव्य बनाने में जुटी योगी सरकार।
  • कार्यक्रम में 600 ड्रोन्स द्वारा एक विशिष्ट शो का किया जाएगा आयोजन।
  • ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में आधुनिक यूपी की झलक पेश करेगा ड्रोन शो।
  • सीएम योगी, राज्यपाल आनंदी बेन पटेल समेत देश और दुनिया के मेहमान लेंगे आनंद।
  • ड्रोन शो कम लाइटिंग शो के लिए तैयार की जा रही है दर्शक दीर्घा।
  • आयोजन स्थल पर शो के पूर्व इसकी टेस्टिंग की प्रक्रिया भी शुरू की जाएगी।
  • देश और दुनिया से आए मेहमानों को आधुनिक यूपी की दिखाई देगी झलक।

‘जीरो एमिशन’ गोल्फ कार्ट बनेगा ‘कार्बन लेस जर्नी’ का जरिया

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा ग्लोबल इनवेस्टर समिट से जुड़े सूक्ष्म से सूक्ष्म पहलुओं पर नवाचार के दृष्टिगत किस प्रकार कार्य किया जा रहा है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आयोजन स्थल पर आवागमन हेतु जैविक ऊर्जा से चलने वाले वाहनों के बजाए जीरो एमिशन गोल्फ कार्ट को प्राथमिकता दी जा रही है। ये गोल्फ कार्ट बैटरी से संचालित होते हैं व इनके संचालन हेतु बाकायदा आयोजन स्थल पर चार्जिंग प्वॉइंट्स की व्यवस्था की जा रही है। यह सारी कवायद आयोजन में आए निवेशकों को ‘कार्बन लेस जर्नी’ के साथ ही ‘ईको फ्रेंडली प्रीमियम क्लास जर्नी’ प्रोवाइड कराने की दिशा में एक कड़ी के तौर पर काम करेगा। फिलहाल आयोजन स्थल पर 10 गोल्फ कार्ट्स आवागमन हेतु प्रयुक्त की गई हैं तथा कार्यक्रम के दौरान जरूरत के मुताबिक इनकी संख्या में और वृद्धि की जा सकती है।
यह भी पढ़ें – UP और डेनमार्क में होगी साझेदारी..!

रंग-बिरंगी रोशनी से सराबोर होगा आकाश-


ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का कार्यक्रम कितना भव्य होगा इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसमें 600 ड्रोन्स का इस्तेमाल किया जाएगा जो कि आयोजन स्थल के आकाश में रंग-बिरंगी रोशनी में सराबोर होकर एक अलग ही आभा प्रस्तुत करेंगे। उत्तर प्रदेश में दो अवसरों पर पहले भी ड्रोन शो का आयोजन हो चुका है। हाल ही में काकोरी बलिदान दिवस की याद में गोरखपुर में 750 ड्रोन्स के जरिए एक अलौकिक शो का आयोजन किया गया था जो कि न केवल राज्य बल्कि देश का भी अब तक का सबसे बड़ा ड्रोन शो था। इससे पूर्व, राजधानी लखनऊ में भी वर्ष 2021 के दौरान रेजिडेंसी में आयोजित ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ कार्यक्रम के दौरान 500 ड्रोन्स का उपयोग हुआ था जिन्होंने एक अलग ही आभा बिखेरी थी। इन्हीं सफलताओं से उत्साहित होकर प्रदेश सरकार ग्लोबल इनवेस्टर्स समिट में भी ड्रोन शो को बतौर एक सिग्नेचर ब्लॉकबस्टर इवेंट के तौर पर शामिल करने जा रही है। इसके लिए बाकायदा प्रशासन की ओर से सभी जरूरी कार्य किए जा रहे हैं। माना जा रहा है कि शो के पूर्व एक निर्धारित को-ऑर्डिनेट पर जल्द ही इसकी टेस्टिंग की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी। कार्यक्रम में भाग लेने आए प्रतिभागियों की सहूलियत के लिए बाकायदा आयोजन स्थल पर एक अलग से दर्शक दीर्घा बनाई जा रही है जहां से हर कोई इस शो का आनंद उठा सकेगा।

आयोजन स्थल का दौरा कर सकते हैं योगी


वृंदावन योजना में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियों का स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जायजा लेंगे। संभवतः शुक्रवार को सीएम यहां आ सकते हैं और चल रहे निर्माण कार्यों की प्रगति का निरीक्षण करेंगे। यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में देश और दुनिया के बड़े निवेशक हिस्सा लेने आ रहे हैं। साथ ही, पीएम और राष्ट्रपति समेत कई कैबिनेट मिनिस्टर भी इसमें हिस्सा लेने वाले हैं। ऐसे में सीएम योगी यहां कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। वो यहां बन रहे सभी सात ब्लॉकों और हैंगर्स के निर्मार्ण कार्य की प्रगति देखेंगे और जरूरी दिशा निर्देश भी देंगे। इसके अलावा, वो पीएम समेत अन्य वीआईपी मेहमानों व निवेशकों के लिए की जा रही सुविधा और सुरक्षा व्यवस्था का भी जायजा लेंगे।

आधुनिक उत्तर प्रदेश की बनेगी पहचान

योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को आगामी 5 वर्ष में एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रदेश, देश और यहां तक की दुनिया भर के निवेशकों को ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के लिए आमंत्रित किया है। मुख्य आयोजन से पूर्व ही यूपी सरकार को 20 लाख करोड़ से अधिक के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हो चुके हैं। यूपीजीआईएस 2023 दुनिया भर के व्यापारिक नेताओं, राजनीतिक व आर्थिक गणमान्य व्यक्तियों, उद्यमियों तथा उद्योग सहयोगियों को एक साथ लाकर व्यापार नेटवर्किंग, ज्ञान साझा करने एवं रणनीतिक साझेदारी हेतु एक अद्वितीय मंच के रूप में काम करेगा। इस भव्य कार्यक्रम की गूंज न केवल पूरे देश बल्कि दुनिया के विभिन्न कोनों में भी हो रही है। यही कारण है कि इस भव्य कार्यक्रम को नव्य प्रारूप में प्रस्तुत करने एवं देश-विदेश से आए निवेशकों में उत्तर प्रदेश की अलग और आधुनिक पहचान बनाने के लिए सरकार कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है।

GIS में UP की झलक पेश करेगा ड्रोन शो