Tuesday, July 23, 2024
Advertisement
Home राजनीति

राजनीति

भारतीय राजनीति का इतिहास प्राचीन है। जिसका विवरण विश्व के सबसे प्राचीन सनातन धर्म ग्रन्थों में देखनें को मिलता है। इसकी शुरुआत रामायण काल से भी प्राचीन है। महाभारत महाकाव्य में इसका सर्वाधिक विवरण देखने को मिलता है। चाहे वह चक्रव्यूह रचना हो या चौसर खेल में पाण्डवों को हराने का।

राजनीति दो शब्दों का एक समूह है। राज+नीति राज मतलब शासन और नीति मतलब उचित समय और स्थान पर उचित कार्य करने की कला। अर्थात् नीति विशेष के द्वारा शासन करना राजनीति कहलाती है। शब्दों में कहें तो जनता के सामाजिक एवं आर्थिक स्तर सार्वजनिक जीवन स्तर को ऊँचा करना है। नागरिक स्तर पर या व्यक्तिगत स्तर पर कोई विशेष प्रकार का सिद्धान्त एवं व्यवहार है।

राजनीति किसी भी समाज का अविभाज्य अंग है। इस संगठन और सामूहिक निर्णय के किसी ढांचे के बिना कोई भी समाज जीवित नहीं रह सकता। यह प्रणाली लोकतंत्र, राजतंत्र, कुलीनतंत्र और अधिनायकवादी और अधिनायकवादी शासन हैं। अधिनायकवादी और अधिनायकवादी शासन राजनीतिक रूप से अधिक अस्थिर होते हैं। क्योंकि उनके नेता वैध अधिकार का आनंद नहीं लेते हैं। इसके बजाय भय के माध्यम से शासन करते हैं।

भारत की राजनीति ऐसी है जो आज के समय में लोकतंत्र के सबसे सहि पायदान है। भारत की राजनीति जिसमें सभी व्यक्ति को समानता अधिकार प्रदान करने के लिए चुनाव होता है। भारतीय बाजार की तरह थी लेकिन वर्तमान सरकार के वजह से अत्यधिक पारदर्शी हो गई है।

भारत की राजनीति का स्तर दिन-प्रतिदिन गिरता जा रहा है। भारतीय राजनीति गंदी हो गई है। यह उस अंधेरी गुफा में फंस गई है। जहां कोई यह नहीं जानता कि कौन सच बोल रहा है। तथा कौन सही मार्ग का अनुसरण कर रहा है। सियासी दलों को पार्टी हित एक किनारे रखते हुए। इसकी गंदगी हटाने को पहल करनी चाहिए।

सत्ता का दुरुपयोग करती भाजपा-अखिलेश
निराशा का बजट-अखिलेश यादव
लौटनराम निषाद
अनारक्षित का मतलब सवर्ण के लिए आरक्षित नहीं-लौटन राम निषाद
निराशाजनक है बजट-अमरनाथ मिश्रा
साम्प्रदायिक ताक़तें रच रही शड़यंत्र
साम्प्रदायिक ताक़तें रच रही शड़यंत्र
न्यायालय ने विभाजनकारी ताकतों को दिखाया आइना
न्यायालय ने विभाजनकारी ताकतों को दिखाया आइना
बंद होगी दलितों पिछड़ों की दुकानें-संजय सिंह
बंद होगी दलितों पिछड़ों की दुकानें-संजय सिंह
सपा के ऑफर से BJP में खलबली
सपा के ऑफर से BJP में खलबली
जिला पंचायत सदस्य विजय बहादुर यादव सपा में शामिल
जिला पंचायत सदस्य विजय बहादुर यादव सपा में शामिल
भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था चौपट
भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था चौपट
रूपेश पाण्डेय की विधान परिषद में एंट्री..!
रूपेश पाण्डेय की विधान परिषद में एंट्री..!

Breaking News

सत्ता का दुरुपयोग करती भाजपा-अखिलेश

निराशा का बजट-अखिलेश यादव

0
निराशा का बजट-अखिलेश यादव
लौटनराम निषाद

अनारक्षित का मतलब सवर्ण के लिए आरक्षित नहीं-लौटन राम निषाद

0
अनारक्षित का मतलब सवर्ण के लिए आरक्षित नहीं-लौटन राम निषाद

निराशाजनक है बजट-अमरनाथ मिश्रा

0
निराशाजनक है बजट-अमरनाथ मिश्रा
नई स्थानांतरण नीति में दिव्यांग कार्मिकों को राहत

विकसित भारत निर्माण का बजट-योगी

0
विकसित भारत निर्माण का बजट-योगी

सब्जी तोड़ने गया कैदी फरार

0
सब्जी तोड़ने गया कैदी फरार