मोती महल लान में सजी योग की महफिल

67
मोती महल लान में सजी योग की महफिल
मोती महल लान में सजी योग की महफिल

मोती महल लान में सजी योग की शानदार महफिल। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने दीप प्रज्वलन कर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के सामान्य प्रोटोकॉल के अभ्यास का किया शुभारंभ। 10वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के तत्वाधान में बनाए योगासन में 10 विश्व रिकॉर्ड। मोती महल लान में सजी योग की महफिल

ब्यूरो निष्पक्ष दस्तक

लखनऊ। मोती महल वाटिका लखनऊ में योगासन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड काउंसिल के तत्वाधान में भारतीय आदर्श योग संस्थान एवं जश्ने आजादी ट्रस्ट -द्वारा आमंत्रित 10 प्रतिभागियों ने अपने-अपने आसनों में एकल रूप से 10 विश्व रिकॉर्ड स्थापित किए। कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने दीप प्रज्वलन कर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के सामान्य प्रोटोकॉल का अभ्यास कर शुभारंभ किया। मुख्य सचिव ने भारतीय आदर्श योग संस्थान के पदाधिकारियों एवं सदस्य गणों के साथ योगाभ्यास किया। भारतीय आदर्शों संस्थान अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2024 के कार्यक्रमों के लिए अब तक 55 योग शिविरों का आयोजन कर चुका है।

मोती महल लान में सजी योग की महफिल

https://youtu.be/5ze0AXY3Jx0?si=Otxzy84mKi0uyEXu

योगाचार्य कृष्ण दत्त मिश्रा ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2024 का थीम “स्वयं योग करें और लोगों को योग करने के लिए प्रेरित करें” है। योग दिवस 2024 के उत्सव का उद्देश्य योग के समग्र लाभों के बारे में जागरूकता बढ़ाना और लोगों को बेहतर स्वास्थ्य के लिए नियमित रूप से इसका अभ्यास करने के लिए प्रेरित करना है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस शारीरिक,मानसिक और आध्यात्मिक कल्याण के लिए एक समग्र अभ्यास के रूप में योग के महत्व पर प्रकाश डालता है। यह लोगों को एक साथ मिलकर योग के जीवन-परिवर्तनकारी लाभों को साझा करने का अवसर देता है।यह व्यक्तियों और समूहों को शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों के लिए जानने का अवसर प्रदान करता है, साथ ही समाज और व्यक्तिगत स्वास्थ्य दोनों पर इसके प्रभाव के बारे में भी बताता है। योग शारीरिक तंदुरुस्ती को बढ़ावा देता है, मन की शांति को प्रोत्साहित करता है, तनाव को कम करता है और सद्भाव और आंतरिक शांति की भावना पैदा करता है।

भारतीय आदर्श योग संस्थान मधु पांडेय,राजकुमार राज,ओम मिश्रा के साथ मोती महल लान में सजी योग की महफिल

डॉ.आनंदेश्वर पांडे,चेयरमैन योगासन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड काउंसिल,यूएई अध्यक्ष सैय्यद रफत जुबेर रिजवी, काउंसिल के सीईओ आचार्यश्री डॉ. यश पाराशर,चीफ एडिटर मालविका वाजपेई ने सभी 10 विश्व कीर्तिमान घोषित किए। लखनऊ से आरना खुराना ने सुप्त तितिभासन 33 मिनट 06 सै. पदम चक्रासन में 02 मिनट 31 सै. विश्व रिकॉर्ड बनाया।उन्नाव से भूमि तिवारी ने तीन आसनों में रामदूतासन 35 मिनट 27 सै. कमरमरोड़ आसन मे 12 मिनट 35 सै. व राजकपोतासन 05 मिनट 26 सै. तक रुक कर रिकॉर्ड अपने नाम किया।सौम्या ओझा कानपुर ने परिवर्तित जानू शीर्षासन मे 23 मिनट 34 सै. और तिम्यासन में 07 मिनट 15 सै. रुक कर विश्व कीर्तिमान अपने नाम किए।रायबरेली से सृष्टि सोनकर ने पदपुत्र परिवर्तित जानू शीर्षासन में 33 मिनट 06 सै. कर विश्व रिकॉर्ड बनाया। कानपुर से डॉ भावना श्रीवास्तव ने वज्रआसन में 45 मिनट 03 सै. करके विश्व रिकॉर्ड बनाया। गाजियाबाद से अंजलि भारद्वाज ने शशांकासन में 39 मिनट 11 सेकंड तक रुककर विश्व रिकॉर्ड बनाया। लखनऊ की दिया आहूजा ने 9 महीने की गर्भावस्था में चार कठिन आसनों जिसमें वॉरियर पोज, टाइगर पोज, सेतुबंध आसन और वृक्षासन में विश्व रिकॉर्ड बनाएं।मालविका जी के निर्देशन में बने ये चारों आसन के लिए मालविका ने बताया की ऐसी परिस्थिति में ये कारनामा करने वाली दिया पहली योगिनी है और पूरी महिला वर्ग के लिए एक प्रेरणा है। अतिथियों द्वारा सभी चारों रिकॉर्ड से दिया को सम्मानित किया गया।

दशम अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की थीम महिला सशक्तिकरण को सार्थक करते हुए सभी विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले सभी प्रतिभागी महिलाएं थी। कार्यक्रम के आयोजक मुरलीधर आहूजा व योगाचार्य कृष्ण दत्त मिश्रा ने सफल आयोजन के लिए सभी को बधाई प्रेषित की व मीडिया का भी आभार प्रकट किया। साथ ही प्रोटोकॉल के लिए शहर से आए सभी योगाभ्यासियों को 21 जून की शुभकामनाएं प्रेषित की। इस अवसर पर समाजसेवी अब्दुल वहीद,अजीज सिद्दीकी,डॉ. आदर्श त्रिपाठी,डॉ. राधेश्याम, मुर्तुजा अली, शहजादे कलीम,कुदरत उल्ला खान के साथ ही भारतीय आदर्श योग संस्थान के पदाधिकारी एवं सदस्य गण उपस्थित रहे जिनमें अध्यक्ष एवं योगाचार्य कृष्ण दत्त मिश्रा,सचिव राजकुमार राज,कोषाध्यक्ष चंद्रशेखर कुमार कृष्ण कुमार गुप्ता,मधु पांडेय,आनंद पांडेय, राधेश्याम चौरसिया, डॉ.एल.के. राय, विनोद कुमार यादव,कर्नल डॉ. आलोक सिन्हा, कमलेश कुमार पाठक,मगन मिश्र,डॉ.डी.के. सिंह ,आरबी सिंह,संगीता सिंह,शोभना द्विवेदी,रीता पांडे, कल्पना भद्रा,शशि मणि त्रिपाठी,इसरार खान,राकेश साहू,ऋषभ मिश्रा,शिव शंकर सोनवाल, शिवकुमार, गौरव जाजू, डॉली वैश्य, गीता थापा, रुखसाना,उमा शर्मा, मीनू आहूजा,बीना यादव आदि मौजूद थे। मोती महल लान में सजी योग की महफिल