विधुत विभाग की लचर व्यवस्था ने ली तीन लोगों की जान

31
विधुत विभाग की लचर व्यवस्था ने ली तीन लोगों की जान
विधुत विभाग की लचर व्यवस्था ने ली तीन लोगों की जान

विधुत विभाग की लचर व्यवस्था ने एक ही परिवार के तीन लोगों की जान ली। थाना हैदराबाद बड़ी नहर पर 11000 के टूटे पड़े तार में बाइक सवार झुलसा। जिलाधिकारी ने 5,5 लाख रुपए देने की घोषणा की।

लखीमपुर खीरी। विधुत विभाग में भ्रष्टाचार की कलई तब खुल गई जब थाना हैदराबाद के अन्तर्गत नहर पटरी पर बिजली के 11000 लाइन के पोल से टूटे पड़े तारों में थाना नीमगांव से विवाह समारोह में शामिल होने के बाद अपने घर बाईक से जनपद पीलीभीत जा रहे थे।देखते ही देखते तारों की चपेट में आते ही बाइक में आग लग गई और बाइक चला रहा 17 वर्षीय बब्लू, मंजू 40 वर्ष व 4 वर्षीय अनमोल की मौक़े पर ही मौत हो गई।55 वर्षीय बिटिया सहित 6 वर्षीय खुशी जो दूर जा कर गिरे थे गम्भीर रूप से झुलस गए थे उन्हें जिला अस्पताल मोती पुर में भर्ती कराया गया है। जिलाधिकारी महेन्द्र बहादुर सिंह,पुलिस अधीक्षक घटना स्थल देखने के बाद ज़िला अस्पताल पहुंच गए हैं जहां झुलसी बिटिया व खुशी के बेहतर इलाज के लिए चिकित्सकों को निर्देशित किया है जिलाधिकारी महेन्द्र बहादुर सिंह ने विघुत विभाग की शैली पर नाराज़गी जताते हुए अधिशासी अधिकारी को तुरन्त मौक़े पर पहुंचने को कहा है। जिलाधिकारी ने मृतकों को 5,5 लाख रुपए देने की घोषणा की है।पुलिस ने मृतको के शवों का पंचनामा भरने के पश्चात शवों को पोस्टमार्टम हेतु लखीमपुर भेज दिया है। विधुत विभाग की लचर व्यवस्था ने ली तीन लोगों की जान