परिवहन निगम: 41.16 करोड़ की 18 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास

73
परिवहन निगम: 41.16 करोड़ की 18 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास
परिवहन निगम: 41.16 करोड़ की 18 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास

परिवहन मंत्री ने आज परिवहन निगम मुख्यालय में 41.16 करोड़ रूपये लागत की 18 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह ने आज परिवहन निगम मुख्यालय के सभागार कक्ष में परिवहन विभाग एवं परिवहन निगम की 41.16 करोड़ रूपये लागत की कुल 18 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। बस स्टेशन बिन्दकी जनपद फतेहपुर, बस स्टेशन एवं डिपो कार्यशाला शाहगंज जनपद जौनपुर, बस स्टेशन सुजानगंज जनपद जौनपुर, बस स्टेशन ललौली जनपद फतेहपुर, बस स्टेशन हाटा जनपद कुशीनगर, बस स्टेशन डुमरियागंज जनपद सिद्धार्थनगर, डिपो कार्यशाला कुछैछा जनपद हमीरपुर, बस स्टेशन नजीबाबाद जनपद बिजनौर, बस स्टेशन जलेसर जनपद एटा एवं डिपो कार्यशाला इज्जतनगर जनपद बरेली का शिलान्यास एवं बस स्टेशन फरीदपुर जनपद बरेली, बस स्टेशन बछरांवा जनपद रायबरेली, बस स्टेशन महाराजगंज का लोकार्पण किया गया।

उन्होंने कहा कि इन परियोजनाओं के धरातल पर आने से प्रदेश की जनता को बहुत सी सुविधाएं मुहैया होंगी। परिवहन निगम मुख्यालय में उन्होंने कमान्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर का फीता काटकर उद्घाटन किया एवं बसों की वास्तविक स्थिति का स्वयं परीक्षण किया। उन्होंने कहा कि कमान्ड कन्ट्रोल सेन्टर के माध्यम से से बसों की वास्तविक स्थिति प्रदेश के लोगों को मिलेगी। वास्तविक लोकेशन प्राप्त कर किसी आकस्मिक स्थिति में तत्काल सहायता पहुंचाई जा सकती है। कमान्ड कन्ट्रोल सेन्टर को डॉयल 112 से भी जोड़ा जा रहा है। बसों में वीएलटीडी (व्हीकिल लोकेशन एण्ड टेªकिंग डिवाइस) के साथ-साथ पैनिक बटन भी लगाया गया है, जिसका उपयोग करने से निगम मुख्यालय स्थित कमान्ड कन्ट्रोल सेन्टर एवं सम्बंधित क्षेत्रीय कन्ट्रोल रूम में पैनिक अलर्ट प्रदर्शित होगा। अब लोगों को अपने परिवारीजनों की यात्रा के दौरान वास्तविक स्थिति की सुरक्षा स्वतः प्राप्त हो सकेगी एवं परिजनों की जानकारी की चिन्ता से भी मुक्ति मिलेगी।


परिवहन मंत्री ने इस अवसर पर परिवहन विभाग द्वारा संचालित की जाने वाली महत्वपूर्ण परियोजना रायबरेली स्थित इन्स्टीट्यूट ऑफ ड्राइविंग ट्रेनिंग एण्ड रिसर्च सेन्टर का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि यह देश का पहला ऐसा सेन्टर है, जहां टेªनिंग, टेस्टिंग के साथ-साथ रिसर्च का भी कार्य किया जायेगा। इस सेन्टर के संचालित होने से प्रदेश को कुशल चालक मिलेंगे एवं माननीय मुख्यमंत्री जी की मंशानुरूप सड़क दुर्घटनाओं में 50 प्रतिशत तक कमी लाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इसके अलावा जनपद अयोध्या में डीटीटीआई एवं प्रतापगढ़ में एडीटीटी का लोकार्पण से ड्राइवरों की टेªनिंग अब ऑनलाइन हो सकेगी। अब मैनुअल ट्रेनिंग की व्यवस्था धीरे-धीरे समाप्त कर दी जायेगी। उन्होंने कहा कि परिवहन निगम द्वारा लोगों को एयरपोर्ट जैसी सुविधाओं से युक्त सेवाएं मुहैया कराने की दिशा में लगातार कार्य किया जा रहा है, जिसके अन्तर्गत बस स्टेशनों का उच्चीकरण से लेकर पुर्ननिर्माण तक का कार्य कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि परिवहन निगम में 11 बस स्टेशनों को पीपीपी मॉडल पर संवारने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। जल्द ही 11 अत्याधुनिक बस स्टेशन प्रदेश के लोगों को मिलेंगी, जहां पर शॉपिंग मॉल, सिनेमा हॉल जैसे अत्याधुनिक सुविधाएं होंगी।

उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी के कुशल नेतृत्व में परिवहन निगम में क्रान्तिकारी परिवर्तन देखने को मिल रहा है। रेवेन्यू में भी लगातार सुधार प्राप्त हुआ है। प्रदेश की इकोनॉमी को 01 ट्रिलियन इकोनॉमी बनाने में परिवहन निगम का बहुत बड़ा योगदान होगा। परिवहन निगम में नई यूरो-6 मॉडल की अत्याधुनिक बसें चलायी जा रही हैं साथ ही 05 हजार नई इलेक्ट्रिक बसों के आने से प्रदूषणमुक्त एवं आरामदायक सेवा प्रदेश के लोगों को मुहैया होंगी। टेक्नोलॉजी में जितना अधिक सुधार होगा, सुविधाओं में भी उतनी ही बढ़ोत्तरी होगी। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी के कुशल नेतृत्व में परिवहन निगम को देश का नंबर वन परिवहन निगम बनाएंगे। उन्होंने कहा कि हाल ही में बलिया, शाहजहांपुर, कुशीनगर में बस स्टेशन का पुर्ननिर्माण का कार्य किया गया है, जिसका लोकार्पण भी हुआ। अयोध्या में लोकार्पित ड्राइविंग, टेस्टिंग एवं टेªनिंग इन्स्टीट्यूट के संचालन का कार्य मारूति सुजुकी द्वारा अपने सीएसआर फण्ड द्वारा किया जायेगा। इसके अलावा मारूति सुजुकी की तरफ से 04 अन्य सेन्टरों का भी संचालन सीएसआर फण्ड के माध्यम से किया जायेगा। कार्यक्रम के दौरान प्रमुख सचिव परिवहन एल. वेंकटेश्वर लू, परिवहन आयुक्त चन्द्रभूषण सिंह, विशेष सचिव परिवहन के.पी. सिंह, एमडी परिवहन निगम मासूम अली सरवर सहित अन्य विभागीय अधिकारी एवं मारूति सुजुकी के वाइस प्रेसीडेंट तरूण अग्रवाल उपस्थित रहे। परिवहन निगम: 41.16 करोड़ की 18 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास