UP में आबादी से दोगुने टूरिस्ट-मुख्यमंत्री

269
UP में आबादी से दोगुने टूरिस्ट-मुख्यमंत्री
UP में आबादी से दोगुने टूरिस्ट-मुख्यमंत्री

आज यूपी में आ रहे प्रदेश की आबादी से दोगुने टूरिस्ट। पर्यटन एवं संस्कृति विभाग के कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। योगी ने 2758 करोड़ की 762 विकास परियोजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास। ‘ब्रज के शिल्पी : सफलता की कहानियां’ और ‘हैंड क्राफ्टेड प्रॉस्पेरिटी’ नामक दो पुस्तिकाओं का सीएम ने किया विमोचन। एआई टेक्नोलॉजी की मदद से पूरे प्रदेश में हो पर्यटकों की गिनती। UP में आबादी से दोगुने टूरिस्ट-मुख्यमंत्री

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी ने ये बताते हुए खुशी जाहिर की है कि यूपी में आज प्रदेश की आबादी से दोगुनी संख्या में पर्यटक आ रहे हैं। सीएम योगी सोमवार को लोकभवन सभागार में आयोजित पर्यटन विभाग की विभिन्न योजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने 2758 करोड़ की 762 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने पर्यटन विभाग से जुड़ी सभी योजनाओं के लिए प्रदेश की जनता को बधाई दी। उन्होंने कहा कि पहली बार प्रदेश के सभी 75 जनपदों में और सभी 403 विधानसभा क्षेत्र में किसी न किसी पर्यटन स्थल को व्यवस्थित रूप से विकसित करने के लिए प्रो पुअर योजना, मुख्यमंत्री पर्यटन संवर्धन योजना एवं जनप्रतिनिधियों के प्रस्ताव पर आधारित योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण एक साथ हो रहा है।

सरकार द्वारा लिये गये फैसले का लाभ यूपी को प्राप्त हो रहा

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज हम सभी को नया यूपी देखने को मिल रहा है। पर्यटन के दृष्टिकोंण से हम केवल स्थल विशेष का विकास नहीं करा रहे, बल्कि इसके माध्यम से वहां के समग्र विकास, ईको सिस्टम और इम्पलायमेंट को गति देने का कार्य भी कर रहे हैं। सरकार की नियत साफ हो और गति में तीव्रता हो तो उसके परिणाम भी देखने को मिलते हैं। प्रदेश में सुरक्षा और कानून व्यवस्था की बेहतर स्थिति ने जहां यूपी के परसेप्शन को बदला है। वहीं सरकार द्वारा लिये गये फैसले का लाभ यूपी को प्राप्त हो रहा है। काशी में काशी विश्वनाथ धाम, अयोध्या में अयोध्या धाम, नैमिष में नैमिष तीर्थ आज पुनर्जीवित हो गया है। विंध्यवासिनी कॉरीडोर नये रूप में है। बृजभूमि फिर से दुनिया को अपनी ओर आकर्षित कर रही है। प्रयागराज का कुंभ, चित्रकूट, शुकतीर्थ, बौद्ध, सूफी, भक्ति और शक्ति के केंद्र के साथ ही हेरिटेज और ईको टूरिज्म को व्यवस्थित तरीके से आगे बढ़ाने का परिणाम है कि जिस यूपी में पहले कोई आना नहीं चाहता था, आज प्रदेश की आबादी से दोगुने टूरिस्ट यहां आ रहे हैं।

UP में आबादी से दोगुने टूरिस्ट-मुख्यमंत्री
UP में आबादी से दोगुने टूरिस्ट-मुख्यमंत्री

आज पूरी दुनिया यूपी को देखना चाहती है

मुख्यमंत्री ने काशी, अयोध्या, मथुरा, प्रयाग, गोरखपुर का उदाहरण देते हुए कहा कि आज सभी जगह होटल बुक हैं, टैक्सियां बुक हैं, मार्केट कई गुना बढ़ चुके हैं, रेस्टुरेंट में तिल रखने की जगह नहीं मिल रही है है। आज पूरी दुनिया यूपी को देखना चाहती है। यूपी अब उपद्रव नहीं उत्सव की भूमि बन चुका है। जिस यूपी के बारे में कहा जाता था कि यहां अराजकता है, इसे डबल इंजन सरकार ने आस्था और आजीविका में बदल दिया है। यूपी को देश के विकास का ब्रेकर कहा जाता था वह आज ब्रेक थ्रू राज्य बन चुका है। यूपी आज बीमारू नहीं बल्कि रेवेन्यू सरप्लस स्टेट है। सबसे ज्यादा निवेश यहां आ रहा है। इसमें भी सर्विस सेक्टर की बड़ी भूमिका है। अच्छे होटल, अच्छे रेस्टोरेंट आ रहे हैं।

सांसद और विधायकों के प्रस्तावों का परिणाम

मुख्यमंत्री ने इस बात की प्रशंसा की कि आज जितनी भी परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास हो रहा है, ये सब स्थानीय सांसद और विधायकों के प्रस्तावों का ही नतीजा है। सीएम ने कहा कि हम लोग किसी धार्मिक स्थल को संरक्षित करते हैं, तो ऐसा करके हम आने वाली पीढ़ि के लिए एक प्रेरणा स्थल का भी विकास करते हैं। उन्होंने कहा कि पहले लोग अयोध्या भय के मारे नहीं आते थे, आज वहां से संतुष्ट होकर लौट रहे हैं। आज काशी विश्वनाथ धाम में एक साथ 50 हजार श्रद्धालु भी आ जाएं तो कोई परेशानी नहीं होती। विंध्यवासिनी धाम में लाखों लोग भी एक साथ आ जाएं तो कोई दिक्कत नहीं है।

हर एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन पर टूरिस्ट डेस्क की स्थापना की जाए


योगी ने अधिकारियों से कहा कि हमें सीसीटीवी कैमरे को एआई टूल के साथ जोड़ना चाहिए, जिससे हमें ठीक ठीक पता लग सके कि किसी भी पर्यटन स्थल पर कितने टूरिस्ट आ रहे हैं। सीएम योगी ने स्प्रिचुअल टूरिज्म के साथ-साथ बुंदेलखंड के किलों को पर्यटन के दृष्टि से विकसित करने की बात कही। उन्होंने पर्यटन विभाग को इस संबंध में जल्द से जल्द पॉलिसी लाकर आगे बढ़ने के लिए कहा। सीएम योगी ने डिजिटल टूरिस्ट मैप तैयार करने के लिए विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। साथ ही यह भी कहा कि प्रदेश के हर एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन पर टूरिस्ट डेस्क की स्थापना की जाए। जहां से वहां आने वाले पर्यटकों को ये मालूम हो सके कि यहां महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल कौन कौन से हैं, रुकने और खाने-पीने के लिए क्या व्यवस्था है। एक बार हमने ऐसा सिस्टम डेवलप कर लिया तो यूपी इतनी लंबी लकीर खींचेगा कि इसके आस पास भी कोई नहीं दिखेगा।

2019 से भी बेहतरीन और भव्य होगा प्रयागराज कुंभ

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले वर्ष प्रयागराज का कुंभ है। सरकार इसे 2019 से भी बेहतरीन और भव्य बनाने की तैयारी में जुटी हुई है। कुंभी की स्वच्छता, सुव्यवस्था और सुरक्षा को लेकर हम अभी से बड़ी बड़ी परियोजनाओं पर कार्य शुरू कर चुके हैं। वहीं उन्होंने लखनऊ में कुकरैल नाइट सफारी की चर्चा करते हुए कहा कि इसे जल्द से जल्द शुरू करने की तैयारी है। इससे बच्चों के मनोरंजन के साथ साथ ज्ञान की प्राप्ति होगी। उन्होंने कहा कि चाहे गांव का कोई मंदिर हो, पौराणिक स्थल हो, एडवेंचर और ईको टूरिज्म का केंद्र हो सबको व्यवस्थित तरीके से विकसित किया जाएगा। इस अवसर पर डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक,पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह, लखनऊ की महापौर सुषमा खर्कवाल, विधायक जय देवी,अमरेश कुमार,योगेश शुक्ला,नीरज वोहरा,मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र,प्रमुख सचिव पर्यटन एवं संस्कृति मुकेश मेश्राम सहित प्रदेश के सभी महत्वपूर्ण स्थलों पर जनप्रतिनिधिगण एवं अधिकारीगण मौजूद रहे।

इन मुख्य परियोजनाओं का हुआ लोकार्पण

अयोध्या में क्चीन हो मेमोरियल पार्क, बहराइच के गुल्लावीर में महाराजा सुहेलदेव जी की प्रतिमा के निकट मंच के सम्मुख सभागार एवं स्मारक, चित्रकूट में लक्ष्मण पहाड़ी का पर्यटन विकास, कासगंज स्थित शूकर (सोरों) क्षेत्र का पंचकोसी परिक्रमा मार्ग, मीरजापुर में विंध्यवासिनी मंदिर पर परकोटा एवं परिक्रमा पथ, मीरजापुर में विंध्यवासिनी मंदिर की गलियों के फसाड का ट्रीटमेंट, मीरजापुर में विंध्यवासिनी मंदिर को जाने वाले मार्गों को जोड़ने वाले पहुंच मार्गों का सुदृढ़ीकरण एवं निर्माण, लखीमपुर-खीरी के महेवा स्थित इंदिरा मनोरंजन पार्क का पर्यटन विकास एवं सौंदर्गीकरण, मथुरा के गोवर्धन स्थित रंजीत सिंह की छतरी पर फसाड लाइट, सिद्धार्थनगर के कपिलवस्तु स्थित भारतीय बौद्ध महाविहार का जीणोंद्धार।


शिलान्यास होने वाली प्रमुख परियोजनाएं

अयोध्या में 16 स्थानों पर फसाइ लाइटिंग एवं पर्यटन अवस्थापना सुविधाएं, अयोध्या में सरयू तट पर गुप्तार घाट एवं राज घाट के मध्य घाटों का पुनरुद्धार, अयोध्या में राम की पैड़ी से राज घाट तक एवं राज घाट से श्रीराम जन्मभूमि मंदिर तक श्रद्धालु पथ का जीर्णोद्धार, अयोध्या में सरयू नदी के लक्ष्मण घाट से नया घाट तक पर्यटन सुविधाओं का विकास एवं सौंदर्गीकरण, अयोध्या में 4 ऐतिहासिक प्रवेश द्वारों का संरक्षण एवं सौंदर्गीकरण, अयोध्या में अंबेडकरनगर, लखनऊ, रायबरेली, सुलतानपुर, गोरखपुर एवं गोंडा मार्ग पर गेट कॉम्प्लेक्स, अयोध्या में राम की पैड़ी पर दर्शक दीर्घा, एडवांस्ड लाइट एन्ड साउंड शो अयोध्या में सरयू रिवर फ्रंट का निर्माण एवं श्रीराम जन्मभूमि मंदिर तक कनेक्टिविटी, अयोध्या में नवीन राही पर्यटक आवास गृह में विद्युतीकरण, वेंटिलेशन सिस्टम, प्लम्बिंग सिस्टम एवं अग्निशमन सुविधाएं, चित्रकूट में तुलसीदास की जन्मस्थली राजापुर का समग्र पर्यटन विकास, चित्रकूट के सीतापुर में फूड प्लाजा के सम्मुख पार्किंग एवं पर्यटन सुविधा केंद्र, फिरोजाबाद में ग्लास म्यूजियम, फिरोजाबाद के सिरसागंज स्थित आर्यकुल महाविद्यालय में सांस्कृतिक संकुल, कौशाम्बी में बौद्ध थीम पार्क, लखनऊ में पर्यटन भवन का जीणर्णोद्धार एवं विस्तारीकरण, लखनऊ में महाराजा बिजली पासी किले पर लाइट एंड साउंड शो तथा पर्यटन विकास, विंध्यवासिनी धाम पर गंगा नदी के दीवान घाट से अखाड़ा घाट के मध्य पक्का स्रान घाट एवं पाथवे, शुक्रतीर्थ धाम में टीएफसी एवं पार्किंग तथा गंगा घाट का उच्चीकरण। UP में आबादी से दोगुने टूरिस्ट-मुख्यमंत्री