मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला की धज्जियां उड़ा रहे चिकित्सक सहित स्वास्थ्य कर्मी

334
मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला की धज्जियां उड़ा रहे चिकित्सक सहित स्वास्थ्य कर्मी
मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला की धज्जियां उड़ा रहे चिकित्सक सहित स्वास्थ्य कर्मी

मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला की धज्जियां उड़ा रहे चिकित्सक सहित स्वास्थ्य कर्मी। पीएचसी शुजगंज में लगे आरोग्य स्वास्थ्य मेला में नदारद रहे चिकित्साधिकारी।

अब्दुल जब्बार

अयोध्या/भेलसर। उत्तर प्रदेश सरकार स्वास्थ सेवाओं को बेहतर बनाने को लेकर भले ही बड़े बड़े दावे कर रही हो लेकिन उसकी हकीकत देखना है तो रुदौली तहसील क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रुदौली के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शुजागंज में देखें जहां स्वास्थ्य सेवाएं दिनों दिन बदहाल होती जा रही है।प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शुजगंज में तैनात डाक्टरों के आने व जाने का कोई समय निश्चित नही है कि कौन कब आता है और कब जाता है।डाक्टरों के इस रवैये से इस वक्त पड़ रही भीषण गर्मी से क्षेत्र के मरीजों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता हैं।


प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात केंद्र प्रभारी डाक्टर रवींद्र कुमार शुक्ला आये दिन लेट ही आते रहते है।कुछ दिन पूर्व लेट आने पर उच्चाधिकारियों द्वारा जांच कर उनके ऊपर कार्यवाही भी की जा चुकी है वहीं विभाग के कुछ लोगों की मानें तो इनपर की गई कार्यवाही का कोई असर नही पड़ा है।जबकि परिसर में रहने के लिए सरकारी आवास भी बना हुआ है लेकिन डाक्टर स्वयं अयोध्या से ही आकर ड्यूटी करते है।जबकि प्रदेश की योगी सरकार ने सख्त निर्देश भी जारी किया था कि सभी अधिकारी व कर्मचारी अपने तैनाती स्थल पर सरकारी आवास में ही रुके लेकिन यहां ऐसा नही हो रहा है।


बताते चलें कि प्रत्येक रविवार को सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला लगता है जिसकी जमीनी हकीकत जानने के लिए जब पत्रकारों की एक टीम सुबह करीब 9 बजकर 5 मिनट पर पीएचसी शुजागंज पहुंची तो वहां पर सफाई कर्मचारी को छोड़ कर कोई भी स्वास्थ कर्मी नजर नही आया।कुछ देर बाद साकेत तिवारी फार्मासिस्ट,उदय प्रताप मल प्रयोगशाला सहायक,एएनएम अनिता कुमारी अपने आवास से स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंची।इस दौरान प्रभारी चिकित्साधिकारी रविन्द्र कुमार शुक्ला,शिवमूर्ति वार्ड बॉय व आगनबाड़ी विभाग नदारद रहा।

शुजागंज निवासी रामप्रकाश यादव ने बताया कि यहां तैनात डाक्टरों का आए दिन का यही रवैया रहता है जिससे तराई क्षेत्र सहित दूर दराज से आने वाले मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। सीएचसी अधीक्षक डॉक्टर मदन बरनवाल ने बताया कि वार्ड बॉय छुट्टी पर है,चिकित्सक 10 बजे आएं है।इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि इसे मैं दिखवाता हूं। मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला की धज्जियां उड़ा रहे चिकित्सक सहित स्वास्थ्य कर्मी