निकाय चुनाव-हाउस टैक्स ऑफ और वाटर टैक्स माफ-संजय सिंह

167
निकाय चुनाव-हाउस टैक्स ऑफ और वाटर टैक्स माफ-संजय सिंह
निकाय चुनाव-हाउस टैक्स ऑफ और वाटर टैक्स माफ-संजय सिंह

निकाय चुनाव-हाउस टैक्स ऑफ और वाटर टैक्स माफ-संजय सिंह

यू पी के 633 नगर निकायों में प्रभारियों की घोषणा,सभी सीटो पर लड़ेगी आप. निकाय चुनाव में जनता का आशीर्वाद मिला तो हाउस टैक्स ऑफ और वाटर टैक्स करेंगे माफ. प्रधानमंत्री मोदी से तालिबान के बढ़ते रिश्ते देश की सुरक्षा के लिए खतरा.

लखनऊ- आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने निकाय चुनाव को लेकर पार्टी कार्यालय में महत्वपूर्ण प्रेस वार्ता की. उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं की प्रशंसा करते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने समय-समय पर जन मुद्दों को उठाया और उसके लिए सड़कों पर संघर्ष किया और यही कारण है कि प्रदेश भर में आम आदमी पार्टी का विस्तार सबसे तेजी के साथ हो रहा है.

—– हाउस टैक्स हाफ वाटर टैक्स माफ —–

संजय सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश के 763 नगर निकायों में से 633 नगर निकायों में आम आदमी पार्टी अपने प्रभारी घोषित कर रही है. इसी संदर्भ में उन्होंने विस्तृत रूप से जानकारी देते हुए कहा कि नगर पालिकाओं में 164 प्रभारी, नगर पंचायत में 435 प्रभारी और नगर निगम में 34 प्रभारी बनाए जा रहे हैं. सांसद संजय सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी सभी वर्गों में चेयरमैन पद, मेयर पद पर मजबूती के साथ चुनाव लड़ेगी और उन्होंने विश्वास जताया कि देश की जनता ने एक अवसर प्रधानमंत्री मोदी को दिया एवं मुख्यमंत्री योगी को दिया तो उत्तर प्रदेश की जनता इस बार आम आदमी पार्टी को भी अवसर जरूर देगी क्योंकि वैसे भी नगर निकाय का चुनाव तो शहरों की सफाई के लिए होता है और आप का तो चुनाव चिन्ह झाड़ू है तो झाड़ू वालों को एक अवसर जनता को अवश्य देना चाहिए.

सांसद सिंह ने कहा कि आज देश की जनता अरविंद केजरीवाल के सिद्धांतों से अत्यधिक प्रभावित है और यही कारण है कि दिल्ली की जनता ने तीन बार अरविंद केजरीवाल को चुना क्योंकि उन्हें मुख्यमंत्री केजरीवाल का शिक्षा, स्वास्थ्य , चिकित्सा, यातायात, बिजली-पानी का मॉडल पसंद आया और इन्हीं मुद्दों पर जनता ने पंजाब की कमान भी आम आदमी पार्टी को सौंप दी. संजय सिंह ने बात को जारी रखते हुए कहा कि इन्हीं सिद्धांतों पर आज वह घोषणा करते हैं कि उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव में आम आदमी पार्टी का प्रत्याशी विजयी होता है वहां हम हाउस टैक्स हाफ और वॉटर टैक्स माफ करेंगे साथ ही शहर की सफाई की उच्च व्यवस्था की जाएगी.

—– तालिबान भारत में ड्रग्स भेज रहा और मोदी जी उसे 20000 टन गेहूं भेज रहे हैं, यह रिश्ता क्या कहलाता है —–

सांसद संजय सिंह ने एक और मुद्दा उठाते हुए कहा कि जिस तरह से केंद्रीय जांच एजेंसियां असंवैधानिक कृतियों में लिप्त हैं उससे देश के लोकतंत्र, संवैधानिक संस्थाएं और न्याय व्यवस्था पर खतरा मंडरा रहा है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी विपक्ष के नेताओं पर लगातार निराधार मुकदमे करते जा रहे हैं. इस बात का आंकड़ा देते हुए संजय सिंह ने कहा कि बंगाल में टीएमसी के ऊपर सीबीआई ने 26 मुकदमे किए हैं, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पर 26 मुकदमे होते हैं, बिहार में आरजेडी के ऊपर 10 मुकदमे किए जाते हैं, आंध्र प्रदेश में पर 6 मुकदमे होते हैं, उत्तर प्रदेश में बीएसपी के ऊपर पांच मुकदमे होते हैं और समाजवादी पार्टी पर चार मुकदमे होते हैं, तमिलनाडु में एआईडीएमके के ऊपर 4 मुकदमें होते हैं, केरल में सीपीएम के ऊपर 4 मुकदमें होते हैं, दिल्ली में आम आदमी पार्टी के ऊपर 4 मुकदमे होते हैं इसी तरह महाराष्ट्र में एनसीपी और कश्मीर में पीडीपी तक पर जो मुकदमे हुए उनका विवरण देते हुए.

अंत में सांसद संजय सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी से सवाल करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने पूरे देश में सभी विपक्षी दलों पर मुकदमा करवा दिया लेकिन क्या आपने अपने गुजराती पूंजीपति मित्रों अडानी, मेहुल चौकसी, नीरव मोदी पर भी मुकदमा करवाया जिन्होनें लाखों करोड़ का घोटाला किया, क्या उन पर भी आप जांच एजेंसी द्वारा जांच करवाएंगे ? संजय सिंह ने कहा कि अडानी के भाई ने 38 फर्जी कंपनियां बनाई खुद आडवाणी ने मॉरीशस में एक ही पते पर चार कंपनी फर्जी रजिस्टर करवा कर भारत से कोयले की डील की जो प्रधानमंत्री मोदी की मदद से हुई. क्या केवल मित्रता के कारण ऐसे पूंजीपति लोगों पर प्रधानमंत्री मोदी कोई कार्यवाही नहीं करेंगे? संजय सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा कि मैं चाहता हूं कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, भारतीय जनता पार्टी और भाजपा के कार्यकर्ता भी बताएं कि क्यों वह गुजराती पूंजीपति मित्रों के काले कारनामों पर पर्दा डाल रहे हैं. उन्होंने कहा कि अंडाणी के मुंब्रा पोर्ट पर तालिबान से भेजी गई 20000 करोड रुपए की ड्रग्स पकड़ी गई फिर भी इस बात को दबाकर उसे बचा लिया गया और उससे भी बड़ी शर्म की बात यह है कि आतंकवाद फैलाने वाले तालिबान को प्रधानमंत्री मोदी ने 20000 टन गेहूं भिजवाया है. संजय सिंह ने कहा इससे तो यह लगता है कि मोदी जी का नारा है तुम मुझे ड्रग्स दो मैं तुम्हें गेहूं दूंगा. उन्होंने कहा कि मामला अब बेहद गंभीर हो चुका है क्योंकि जिस प्रकार प्रधानमंत्री मोदी के तालिबान से रिश्ते मजबूत हो रहे हैं वह भारतीय सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़ा कर रहे हैं.

READ MORE-आखिर महिलायेँ कितना करें इंतजार..!

—– संसद सत्र में जांच एजेंसियों के दुरुपयोग और अडानी के घोटाले जैसे मुद्दे को संसद में उठाएंगे —–

उन्होंने कहा कि बजट आया जिसमें महिलाएं महंगाई से परेशान हैं, नौजवान रोजगार से परेशान हैं, किसान फसलों का दाम में मिलने से परेशान हैं लेकिन नरेंद्र मोदी के द्वारा पेश किए गए बजट से फायदा हो रहा तो सिर्फ तालिबान को. उन्होंने कहा कि आखिर तालिबान से नरेंद्र मोदी का रिश्ता क्या है. सांसद सिंह ने कहा कि बच्चों के सुनहरे भविष्य और उनकी शिक्षा पर काम करने वाले मनीष सिसोदिया को प्रधानमंत्री मोदी जेल भेज देते हैं और आतंकवाद फैलाने वाले तालिबान को गेहूं भेजते हैं और आर्थिक रूप से उनकी सहायता करते हैं आखिर यह रिश्ता क्या कहलाता है. उन्होंने कहा कि सच बोलने में कोई भी आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता ना झुकेगा ना डरेगा बल्कि हिम्मत के साथ सच बोलेगा और खड़ा रहेगा चाहे उसे लाठी मारी जाए चाहे उसे जेल भेजा जाए क्योंकि यही मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सिद्धांत हैं.

उन्होंने कहा कि भारत सरकार में इस समय शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए केवल 2 परसेंट का बजट है. संजय सिंह ने कहा वास्तविक मुद्दों पर बात नहीं होती क्योंकि मोदी जी चाहते हैं कि उनकी कुर्सी और उनकी पार्टी सुरक्षित रहे इसलिए सीबीआई ईडी को विपक्षी नेताओं के पीछे लगाए रहते हैं. उन्होंने कहा कि आने वाले संसद सत्र में वह जांच एजेंसियों के दुरुपयोग और अडानी के घोटाले जैसे मुद्दे को संसद में उठाएंगे और अडानी से जुड़ी हुई बहुत सारी चीजें उनके पास एकत्रित हैं जिसको वह सरकार और जनता के सामने निष्पक्ष रुप से रखेंगे.

इस बीच कार्यालय में उपस्थित चुनाव समिति के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कुछ प्रमुख जिलों में चयनित प्रभारियों के नाम की जानकारी दी जिनमें नगर पालिका परिषद फतेहपुर सीकरी से ओपी कुशवाहा- प्रभारी जिला आगरा, मुबारकपुर से राजेश सिंह- प्रभारी जिला आजमगढ़, नवाबगंज से वहीद अंसारी – प्रभारी जिला बरेली, इसी प्रकार नगर पंचायत के लिए फतेहाबाद से राम नरेश बघेल- प्रभारी जिला आगरा, गंज से नरेश चौधरी प्रभारी जिला अयोध्या, सलेमपुर से प्रभारी प्रेम प्रकाश यादव जिला देवरिया एवं नगर पंचायत एसेंबली में एत्मादपुर से वीरेंद्र सिंह – प्रभारी जिला आगरा, महाराजपुर से मोहित शुक्ला – प्रभारी कानपुर नगर, सरोजिनी नगर से परमात्मा गिरी – प्रभारी लखनऊ शामिल है.

निकाय चुनाव-हाउस टैक्स ऑफ और वाटर टैक्स माफ-संजय सिंह