बलिया में बनेगा आधुनिक बस अड्डा-परिवहन मंत्री

97

परिवहन मंत्री ने तीन सौ करोड़ की परियोजनाओं का किया शिलान्यास-लोकार्पण। बलिया में आधुनिक बस अड्डा परियोजना का भी शिलान्यास।

बलिया। परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने शनिवार को रोडवेज परिसर में आयोजित कार्यक्रम में लगभग तीन सौ करोड़ की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास किया। बलिया मुख्यालय पर बनने वाले आधुनिक बस अड्डे के साथ उजियार घाट पर भी बस अड्डा एवं लोक निर्माण विभाग की 72.86 करोड़ की लागत से बनने वाली कुल 80 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इसमें टेकार बन्धे से मुक्तिधाम मार्ग व जमुआ रिंग बन्धा से धरीक्षण दास की कुटिया मार्ग पर पुलिया भी शामिल है। नगर विकास विभाग की भी 17.60 करोड़ के 65 कार्यों का शिलान्यास तथा 6.38 करोड की 32 निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया।

परिवहन मंत्री ने कहा कि बलिया नगर की जनता ने मुझे पांच साल दिया है। इन पांच वर्षों में हर वह काम करके दिखाऊंगा, जो चुनाव से पहले वादा किया था। एसटीपी का निर्माण भी रूका था, अब वह भी तेजी से बनेगा। नगर का सीवरेज सिस्टम दुरूस्त होगा। हर घर शुद्ध पेयजल की सप्लाई होगी। उन्होंने कहा कि चुनावे वादे के लगभग 60 प्रतिशत कार्य पूरे हो चुके हैं। मेडिकल कॉलेज व कटहल नाला के सुन्दीकरण का भी शिलान्यास जल्द ही मुख्यमंत्री जी से कराऊंगा।

हर गांव में जाएगी रोजवेज बस

परिवहन मंत्री ने कहा, हमारी योजना है कि प्रदेश के हर गांव में रोडवेज की बसें जाएंगी। जिस गांव से बस चलेगी, उसी गांव के ड्राईवर-कंटक्टर उस पर तैनात होंगे, जो प्रतिदिन गांव से मुख्यालय पर आने के बाद वापस अपने गांव चले जाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में रोडवेज के 1600 नये रूट चिन्हित किये गये हैं, जहां 25 हजार नई बसें चलाई जाएंगी। दस हजार बसों की खरीद हो गयी है, जो जल्द ही बन कर तैयार होकर रूट पर होंगी।

मल्टीस्टोरेज बिल्डिंग में ऊपरी तल होगा मॉल

परिवहन मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी जी जब बलिया आए थे तो मुझसे कहा था कि यहाँ आधुनिक बस अड्डा होना चाहिए। उनके निर्देश के अनुपालन में आज 48 करोड़ की लागत से बनने की शुरुआत हो गई। यह मल्टीस्टोरेज बिल्डिंग होगी, जिसमें ऊपरी तल व्यावसायिक होगी। इसकी ख़ूबसूरती देखने लायक़ होगी। उजियार से कभी कई प्रदेशों में बसें जाती थीं। काफ़ी दिनों से वह बंद पड़ा था, जिसे पाँच करोड़ की लागत से निर्माण शुरू कराया जाएगा। वहाँ एक अतिथि गृह भी बनेगा। पीपीपी मॉडल पर रसड़ा व बेलथरारोड बस अड्डा को भी सुंदर बनाया जाएगा, जिसमें ऊपरी तल मॉल के रूप में होगा।

बलिया में बनेगा आईएसवीटी

परिवहन मंत्री ने कहा कि अंतर्राज्यीय बस अड्डा (आईएसवीटी) भी बनाया जाएगा, जिसके लिये ज़िलाधिकारी ने ज़मीन देने की सहमति दे दी है। इसके बनने के बाद कई प्रांतों से बसें बलिया आएगी। इसके अलावा रायबरेली के बाद दूसरा ऑटोमैटिक ट्रेनिंग एंड रिसर्च सेंटर बलिया में बनेगा। बहुत जल्द इसकी भी शुरुआत होगी। इससे ड्राइवर पूर्ण रूप से ट्रेंड होंगे, उन्हें रोज़गार मिलेगा और दुर्घटनाओं पर भी विराम लगेगा। मेरी इच्छा है कि परिवहन विभाग की हर बेहतर सेवा बलिया को भी मिले। उन्होंने कहा कि बलिया में स्वास्थ्य, शिक्षा, सड़क के क्षेत्र में तमाम विकास कार्य हुए। जनपद में फोर-लेन सड़क चारों तरफ़ होगी। मुख्य सचिव भी बलिया के पढ़े हैं और वह भी यहाँ के विकास के लिए तत्पर हैं। बजट में मुख्यमंत्री जी ने मेडिकल कॉलेज को शामिल किया है, जल्द ही शिलान्यास होगा।

बलिया को मिलेगी रोडवेज की सभी बेहतर सुविधाएं

उ.प्र. परिवहन निगम के एमडी मासूम अली सरवर ने कहा कि परिवहन मंत्री जी का बलिया के विकास पर विशेष फ़ोकस है। प्रदेश का अंतिम जिला होने के नाते यहां रोडवेज की हर सुविधा पहुंचाने पर हम सबका ध्यान रहेगा। एमडी ने कहा कि यहाँ बस स्टैंड ऐसा बन रहा है जो प्रदेश में कम ही जगहों पर होगा। इससे यहाँ के किसानों, व्यापारियों व पूरे जनपदवासियों को लाभ मिलेगा। वीरों की इस ऐतिहासिक धरती पर यह आधुनिक बस अड्डा विकास की नई गाथा लिखेगा।

बलिया के विकास को मिलेगी गति

विशेष सचिव (परिवहन) केपी सिंह ने कहा कि बलिया से मेरा पुराना नाता रहा है। सौभाग्य है कि यहाँ विकास कार्य में पहले एसडीएम व एडीएम के रूप में, और अब परिवहन विभाग में कार्यरत होने के नाते यहां के विकास में भागीदारी का मौक़ा मिला है। परिवहन मंत्री की गतिशीलता और विभाग की बेहतरी के लिए तत्परता की तारीफ़ लेते हुए कहा कि यह बस अड्डा बलिया के विकास को गति प्रदान करेगा।

बलिया की पहचान होगा यह बस अड्डा

डीएम रवींद्र कुमार ने कहा कि यहाँ बनने वाला मॉडल बस स्टेशन निश्चित रूप से इस जनपद की पहचान बनेगी। इसके लिए परिवहन मंत्री जनपद की ओर से बधाई के पात्र हैं। हम सबका प्रयास है कि बलिया हर आधुनिक सुविधाओं से परिपूर्ण हो जाए। वाहन ट्रेनिंग सेंटर भी बनाने के लिए भी कार्यवाही जारी है। जल्द ही ज़िले में एक बाढ़ स्थल बनेगा, जहां बाढ़ के समय विस्थापित काफ़ी लोग एक साथ रह सकेंगे। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष संजय यादव, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष जयप्रकाश साहू, नपा अध्यक्ष संत कुमार गुप्ता सहित अन्य अतिथि मौजूद थे।