जल निकासी की व्यवस्था दुरुस्त करें-ए.के. शर्मा

46
जल निकासी की व्यवस्था दुरुस्त करें-ए.के. शर्मा
जल निकासी की व्यवस्था दुरुस्त करें-ए.के. शर्मा

नगर विकास मंत्री ने वाराणसी की जल निकासी, सीवर व्यवस्था, साफ-सफाई, संचारी रोग आदि की समीक्षा की। जलभराव वाले स्थानों से जल निकासी के किये जाएं समुचित प्रबन्ध। वाराणसी के सभी विधान सभा क्षेत्रों में बेहतर नगरीय व्यवस्थापन के प्रयास किये जाएं। अधिकारियों/कर्मचारियों की जवाबदेही तय की जाए। नगरीय व्यवस्थापन में जनप्रतिनिधियों का भी सहयोग लें। जल निकासी की व्यवस्था दुरुस्त करें-ए.के. शर्मा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा ने वाराणसी नगर निगम के महापौर और नगर आयुक्त से वाराणसी की जल निकासी, सीवर व्यवस्था और साफ-सफाई व संचारी रोग आदि के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि काशी को दिव्य और भव्य बनाने के लिए वहां की साफ-सफाई चाक चौबन्द रहे, बरसात में कहीं पर भी जलभराव न हो, पानी निकासी के उचित प्रबन्ध किये जाएं। लोगों को संचारी रोग,मच्छर-मक्खीजनित बीमारियों से बचाने के लिए दवाओं का छिड़काव किया जाए।

नगर विकास मंत्री ए0के0 शर्मा मंगलवार को नगरीय निकाय निदेशालय में वाराणसी नगर निगम के विकास कार्यों की वर्चुअल समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि समस्या से निपटने के लिए निगम के और क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों का भी सहयोग लें। सभी अधिकारियों/कर्मचारियों की जिम्मेदारी व जवाबदेही तय की जाए, जिससे कहीं पर भी परेशानियां न उत्पन्न हों। जलकल के अधिकारी सीवर लाइन को दुरूस्त रखें। बरसात में पेय जलापूर्ति में गंदे पानी के मिलने की संभावना रहती है,इसकी लगातार निगरानी करें। जहां कहीं पर भी सीवर लाइन को दुरूस्त करने के लिए गड्डे व सड़क आदि खोदी गयी हो काम पूरा होने के बाद तत्काल भर दें, जिससे कोई दुर्घटना न घटे।

उन्होंने नगरीय व्यवस्थापन को बेहतर बनाने के लिए पॉलिटेक्निक और आईआईटी के छात्रों का परामर्श लेने के भी सलाह दी।बैठक में प्रमुख सचिव, नगर विकास अमृत अभिजात, सचिव अजय कुमार शुक्ला, निदेशक अनुज कुमार झा, विशेष सचिव वीरेन्द्र बहादुर सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे तथा वाराणसी नगर निगम के महापौर श्री अशोक कुमार त्रिवेदी, नगर आयुक्त अक्षत कुमार, महाप्रबन्धक जल निगम व जलकल, अपर नगर आयुक्त उपस्थित थे। जल निकासी की व्यवस्था दुरुस्त करें-ए.के. शर्मा